रिपोर्ट वरुण सिंह। मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और गाजीपुर के सांसद अफजाल अंसारी को लेकर आज हाईकोर्ट में सुनवाई है, और इसके बाद तय होगा कि वह इस बार का लोकसभा चुनाव लड़ पाएंगे या नहीं, सपा ने अफजाल अंसारीको जीपुर से टिकट दिया है, जबकि इससे पहले वह बसपा के टिकट पर यहां से जीते थे, लेकिन अब उन्होंने बसपा छोड़ दी है, तो वहीं इस बार उनके चुनाव लड़ पाने को लेकर लगातार असमंजस की स्थिति बनी हुई है, गैंगस्टर मामले में उनको चार साल की सजा मिली है, इसके खिलाफ अफजाल अंसारी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी, इसी के साथ ही भाजपा के पूर्व विधायक कृष्णानंद राय के परिवार की अर्जी पर भी इलाहाबाद हाईकोर्ट में आज सुनवाई होगी, साल 2019 के लोकसभा चुनाव में गाजीपुर निर्वाचन क्षेत्र से बसपा ने अफजाल को टिकट देकर चुनावी मैदान में उतारा था, तो वहीं गाजीपुर स्पेशल कोर्ट से सजा मिलने के बाद उनकी मुसीबत बढ़ गई थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उनकी 4 साल की सजा पर रोक लगा दी थी, इसी के बाद अफजाल की लोकसभा की सदस्यता भी बहाल हो गई थी ।

वहीं दूसरी खबर है, मेरठ एसटीएफ ने यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में मास्टरमाइंड राजीव में मिश्रा को गिरफ्तार किया है, एसटीएफ ने 2 अप्रैल की रात उसे नोएडा से गिरफ्तार कर कंकर खेड़ा थाने लाकर पूछताछ कर रही है ।