रिपोर्ट, कुलदीप सिंह 

आजमगढ़ । गर्मी शुरू होते ही अग लगी की घटनाएं शुरू हो गई है, बुधवार को जिले के महराजगंज ब्लाक के दो गावों में आग लग गयी, जिसमें कुल नौ मंडई जलकर रख हो गयी, तथा मंडई में रखा गृहस्थी का लाखों का सारा सामान स्वाहा हो गया । मिली जानकारी के अनुसार पहली घटना रघुनाथपुर गांव में हुई, जहाँ सुबह खाना

बनाते समय एक मंडई में आग लगी, जिसने आस पास के अन्य दो मंडई को अपने चपेट में ले लिया, और देखते ही देखते विकराल रुप धारण कर लिया, इस आगलगी में लगभग पचास हजार के ग्रहस्थी के सामान के नुकसान की आशंका जताई गयी है,| दूसरी घटना महाराजगंज थाना क्षेत्र के देवारा के नेता नगरी नई बस्ती में बुधवार को अज्ञात कारणों से भीषण आग लग गई, अग्निकांड में गरीबों की करीब 6 मंडइयां जल गईं, एक झटके में गरीब खुले आसमां के नीचे रहने को मजबूर हो गए । अग्निकांड में करीब दो लाख पचास से ज्यादा के नुकसान की आशंका जताया गई है । ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी, ग्रामीणों ने बाल्टी से आग बुझाने का काम किया, और मौके पर फायर ब्रिगेड के लोग पहुंचे, और किसी तरह से आग पर काबू पाया गया । तेज हवाओं के बीच मंडइयों से उठ रही ऊंची-ऊंची लपटों के सामने ग्रामीण छाती पीटने, रोने-बिलखने से ज्यादा कुछ नहीं कर सके । देवारांचल के नेता नगरी नई बस्ती निवासी कमलेश और संजय की मंडई में दोपहर करीब 11:45  बजे धुआं उठता हुआ लोगों को नजर आया । ग्रामीण कुछ समझ पाते धुंआ आग की लपटों में तब्दील हो गया, ग्रामीण आग बुझाने को दौड़े, लेकिन तेज हवाएं उनकी राह में रोड़ा अटका दिया । हवाओं के झोकों के कारण मंडई की आग ने आस-पास की कई मंडइयों को अपनी चपेट में ले लिया । कमलेश पुत्र विक्रम और संजय विक्रम दोनों भाई की आवासीय मंडइया जलकर खाक हो गई  अग्निकांड में गरीबों की गृहस्थी भी जलकर राख हो गई । पीड़ितों ने बताया कि मंडई में ठेला साइकिल, सिलाई मशीन, आभूषण व पैसे सब जल कर नष्ट हो गया । ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड और महाराजगंज थाने को भी सूचना दी, पुलिस और फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंच गई । दमकल विभाग के फायर मैन के अनुसार महाराजगंज के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के रिहायसी मंडीई में आग लग गई, जिसको फायर  सर्विस महाराजगंज द्वारा तत्काल सूचना मिलते ही समय से पहुंचकर आग को कंट्रोल कर लिया गया जिससे पूरा गांव जलने से बच गया । दोंनो घटनाओं में तीन घरेलू सिलेंडर भी थे जिन्हें शकुशल बाहर निकाल कर बुझाया भी गया । कोई जनहानि हानि नहीं हुई है । आग लगने का कारण ग्रामीणों द्वारा खाना बनाने वाले चूल्हे व विद्युत शार्ट सर्किट बताया गया । आग पूरी तरह से बुझाकर फायर सर्विस फायर स्टेशन महाराजगंज को प्रस्थान हुए